वाशिंगटन । निवर्तमान राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प अभी भी फर्जी खबरें ट्वीट कर रहे हैं, लेकिन अब उनकी बातों का लोगों पर असर कम पड़ने लगा है। ट्रम्प के चुनाव हारने के बाद से लगातार ट्विटर पर उनके फॉलोवर्स की संख्या लगातार कम होती जा रही है। ट्रम्प की सार्वजनिक टिप्पणियों और भाषणों पर नज़र रखने वाली एक वेबसाइट के अनुसार ट्रम्प ने हाल ही में एक लाख से ज्यादा फॉलोअर्स खो दिए हैं और दूसरी तरफ नवनिर्वाचित जो बाइडन ने एक लाख फॉलोअर्स की बढ़त हासिल कर ली है।
फैक्टबेस के आंकड़ों के अनुसार ट्रम्प के फॉलोअर्स की संख्या में 18 नवंबर से 30 नवंबर के बीच लगातार पिछले 12 दिनों में भारी गिरावट आई है। फिलहाल ट्विटर पर ट्रम्प के 88.8 मिलियन फॉलोअर्स हैं और वे लगातार राष्ट्रपति चुनाव में हुई धांधली, वोटों की चोरी और बाइडन पर चुनाव जीतने को लेकर बेबुनियाद आरोप लगाते हुए ट्वीट करना जारी रखे हुए हैं। 
कल ही ट्रम्प ने चुनाव जीतने के संदर्भ में लिखा कि हम किसी हालत में  चुनाव हार नहीं सकते। मतदाता धोखाधड़ी के सबूतों का हवाला देने में विफल रहने के बावजूद ट्रम्प लगातार इस विषय पर ट्वीट करते रहे हैं कि किस तरह रिपब्लिकन 3 नवम्बर का राष्ट्रपति चुनाव नहीं हारे। ट्विटर ने भी बार-बार उनके ट्वीट्स की जांच कर उन्हें विवादित बताते हुए उनकी ज्यादातर पोस्टों को चुनावी धोखाधड़ी करार दिया है। लगता है कि रिपब्लिकन राष्ट्रपति ट्रम्प इस पर किसी तरह की नरमी दिखाते नजर नहीं आ रहे हैं। 
ट्रम्प और बाइडन के बीच वोटों को लेकर भी कोई बराबरी नहीं है, जैसा की वह लगातार घोषित करते रहे हैं। जो बाइडन 80 मिलियन से अधिक मतों से जीतने वाले पहले उम्मीदवार हैं, और अभी भी मतपत्र बचे हुए हैं जिनकी गिनती की जानी है। वर्तमान में 1 दिसंबर तक जो बाइडन के 20.2 मिलियन फॉलोअर हैं और इनकी संख्या में प्रतिदिन इजाफा हो रहा है।