अहमदाबाद | गुजरात में रविवार को नगर पालिका, जिला और तहसील पंचायतों के चुनाव में मतदाताओं ने वोटिंग किया| गुजरात प्रदेश कांग्रेस कार्यकारी प्रमुख हार्दिक पटेल ने अपने होमटाउन विरमगाम में अपने मताधिकार का उपयोग किया| हार्दिक पटेल ने मतदान किसके पक्ष में किया है, यह वही जानें| हार्दिक पटेल ने जहां मतदान किया है वहां कांग्रेस उम्मीदवार ही नहीं है| विरमगाम नगर पालिका के वार्ड 2 में भाजपा और निर्दलीयों के बीच मुकाबला है और आश्चर्य की बात यह है कि कांग्रेस को यहां उम्मीदवार नहीं मिला| वोटिंग के बाद हार्दिक पटेल ने कहा कि जिस निर्दलीय उम्मीदवार को उन्होंने वोट दिया है वह कांग्रेस समर्थित है| विरमगाम में सालों से निर्दलीय उम्मीदवार खड़ा करने की परंपरा रही है| उन्होंने कहा कि कांग्रेस हमेशा निर्दलीय उम्मीदवारों को समर्थन करती आई है| विरमगाम केवल गांव नहीं बल्कि एक ऐतिहासिक स्थल है| जहां कई ऐसे स्थान हैं, जिसके सभी मुद्दों को लेकर बेहतर काम करेंगे| भाजपा से बेहतर काम कर जनता को पसंद आए ऐसे उम्मीदवार चुनेंगे| हार्दिक पटेल ने कहा कि सभी लोगों को अपने मताधिकार का उपयोग करना चाहिए| दिन ब दिन मतदान घट रहा है| लोग जागृत हों और समय पर मतदान कर लोकतंत्र को मजबूत करें| गौरतलब है हार्दिक पटेल गुजरात प्रदेश कांग्रेस के कार्यकारी प्रमुख जरूर हैं लेकिन स्थानीय निकाय चुनावों में उम्मीदवारों के चयन प्रक्रिया से उन्हें दूर रखा गया| हार्दिक पटेल भी स्पष्ट कर चुके हैं कि टिकट बंटवारे के बारे में उनसे कोई राय नहीं ली गई| पाटीदार समाज से आनेवाले हार्दिक पटेल की उपेक्षा से कांग्रेस को नगर निगम चुनाव में बड़ा नुकसान हुआ है| सूरत नगर निगम में कांग्रेस का खाता तक नहीं खुला और आम आदमी पार्टी ने उसके वोट उड़ा लिए मुख्य विपक्षी दल बन गई|